Saturday, March 24, 2007

A Letter to my Husband...

एक गाँव में एक स्त्री थी। उसके पती आई टी में कार्यरत थे। वह अपने पती को पत्र लिखना चाहती है पर अल्पज्ञानी होने के कारण उसे यह पता नहीं होता है कि पूर्णविराम कहाँ लगेगा। इसलिये उसका जहाँ मन करता है वहीं पूर्णविराम लगाती है और इस प्रकार चिठ्ठी लिखती है।

"मेरे प्यारे जीवनसाथी मेरा प्रणाम आपके चरणों में। आप ने अभी तक चिठ्ठी नहीं लिखी मेरी सहेली को। नौकरी मिल गयी है हमारी गाय ने। बछडा दिया है दादाजी ने। शराब शुरू कर दी है मैंने। तुमको बहुत ख़त लिखे पर तुम नहीं आये कुत्ते के बच्चे। भेड़िया खा गया दो महीने का राशन। छुट्टी पर आते वक़्त ले आना एक ख़ूबसूरत औरत। मेरी सहेली बन गयी है। और इस वक़्त टीवी पर गाना गा रही है हमारी बकरी। बेच दी गयी है तुम्हारी माँ। तुमको याद कर रही है एक पड़ोसन। हमें बहुत तंग करती है तुम्हारी बहन। सिरदर्द से लेटी है तुम्हारी पत्नी।"

ये ई-मेल मुझे थोड़ी देर पहले मिली। उम्मीद है आपका भी कुछ टाइमपास होगा। :)

7 comments:

  1. हो गया टाईम पास- :)

    ReplyDelete
  2. Anonymous4:07 PM

    Adjust "Ads by Google". They are taking so much space that we can't view entire text cleary. Though, as it is a famous hindi joke, we did understand it anyway. But for next articles it may create problems.

    ReplyDelete
  3. Anonymous4:07 PM

    Adjust "Ads by Google". They are taking so much space that we can't view entire text cleary. Though, as it is a famous hindi joke, we did understand it anyway. But for next articles it may create problems.

    ReplyDelete
  4. Anonymous12:16 PM

    bahut achha!

    ReplyDelete
  5. koi batayega ki hindi mein kaise lukhun?

    ReplyDelete
  6. Anonymous3:58 PM

    You are making fun of that woman like a stupid.... Pati mein chote ee ki maatra lagti hai.... First improve your hindi...

    ReplyDelete
  7. Anonymous12:02 PM

    GOOD JOKE

    ReplyDelete

Related Posts with Thumbnails